• Sun. Jan 17th, 2021
AB AAJA LYRICS – Gajendra Verma | Jonita Gandhi
AB AAJA LYRICS – Gajendra Verma | Jonita Gandhi
AB AAJA LYRICS – Gajendra Verma | Jonita Gandhi
Album: Flip
Singer: Jonita Gandhi
Lyrics: Aseem Ahmed Abbasee
Record Label: Virtual Planet Music
 
Rookhe rookhe hain mausam ke lab bin tere
Sookhe pedon se
Ho gaye mere shaam savere
Ek ranj hai rahguzaaron mein
Ek aag lagi gulzaaron mein
Har saans ghuli angaaron mein
Sun bhee le meri sada
Ab aaja sanam
Firoon main beqaraar
Ab aaja sanam
Karoon tera intazaar
Ho ho..oo..
Ab hain adhoori tere bina raatein ye sari meri
Ab hain adhoore tere bina khwaab ye saare mere
Ho tere bin naa guzarane pe wakt tula hai
Tere bin jaise dard hawa mein ghulaa hai
Jaise chot hari hai jaise zakhm khula hai
Mera jeenaa hua sazaa
Ab aaja sanam
Firoon main beqaraar
Ab aaja sanam
Karoon tera intazaar
Ho ho…oo..
Bin tere khaali khaali
Taaron bhara hoke bhi aasmaan
Soone rastein saare
Soona soona sa hai saara jahaan
Tere bin tere bin haan tere bin
Berukhi se katte hain mere din
Tere bin jaise jalati hain chaand si raatein
Tere bin jaise khalati hain hothon ko baatein
Jaise kore varaq jaise khaali dawaatein
Jaise sabakuch hai bewajah
Ab aaja sanam
Firoon main beqaraar
Ab aaja sanam
Karoon tera intazaar
Ho ho…oo…
(Aa..aaa…)
 रूखे रूखे हैं मौसम के लब बिन तेरे
सूखे पेड़ों से हो गए मेरे शाम सवेरे
एक रंज है राहगुज़ारों में
एक आग लगी गुलज़ारों में
हर साँस घुली अंगारों में
सुन भी ले मेरी सदा
अब आजा सनम
फ़िरूँ मैं बेक़रार
अब आजा सनम
फ़िरू मैं बेक़रार
अब आजा सनम
करूं तेरा इंतज़ार
अब हैं अधूरी तेरे बिना रातें ये सारी मेरी
अब हैं अधूरे तेरे बिना ख़्वाब ये सारे मेरे
हो, तेरे बिन ना गुज़रने पे वक्त तुला है
तेरे बिन जैसे दर्द हवा में घुला है
जैसे चोट हरी है, जैसे ज़ख्म खुला है
मेरा जीना हुआ सज़ा
अब आजा सनम
फ़िरूँ मैं बेक़रार
अब आजा सनम
करूँ तेरा इंतज़ार
बिन तेरे ख़ाली ख़ाली
तारों भरा होके भी आसमाँ
सूने रस्ते सारे
सूना सूना सा है सारा जहाँ
तेरे बिन तेरे बिन हाँ तेरे बिन
बेरुखी से कटते हैं मेरे दिन
तेरे बिन जैसे जलती हैं चाँद सी रातें
तेरे बिन जैसे खलती हैं होंठों को बातें
जैसे कोरे वरक़ जैसे ख़ाली दवातें
जैसे सबकुछ है बेवजह
अब आजा सनम
फ़िरूं मैं बेक़रार
अब आजा सनम
करूं तेरा इंतज़ार

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *